बिलासपुर में बस स्टैंड के पास सनसनीखेज वारदात:लुटेरों का एक साथी पकड़ा गया तो ट्रैक्टर एजेंसी के कर्मचारियों को कार से रौंद दिया, 3 की मौत

ट्रैक्टर एजेंसी से काम कर घर लौट रहे एक कर्मचारी से पांच बदमाशों ने लूट की कोशिश की। कर्मचारी की आवाज सुनकर उसके बाकी साथी आए और एक लुटेरे को पकड़ लिया। बाद में बदमाश कार से आए और अपने साथी को छुड़ाने के बाद ट्रैक्टर एजेंसी के कर्मचारियों को कार से रौंद दिया।

इसमें यूपी के मथुरा निवासी रमेश चंद्र (35) और वीरेश सिंह (25) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मनोज सिंह (35) की हॉस्पिटल जाते समय रास्ते में मौत हो गई। सुमित सिंह नाम के युवक को सिम्स में एडमिट कराया गया है। घटना का शिकार हुए एक कर्मचारी ने ही भास्कर को यह जानकारी दी। पुलिस ने बदमाशों की कार जब्त कर ली है। सिरगिट्टी रोड पर एक ट्रैक्टर एजेंसी के 8 कर्मचारी शनिवार की रात करीब 8 बजे पैदल अपने घर की ओर जा रहे थे। इनमें से एक बाकी साथियों से कुछ आगे चल रहा था। उसे बाइक सवार पांच लुटेरों ने घेर लिया और मोबाइल-पर्स लूटने की कोशिश की। जब उसने विरोध किया तो मारपीट करने लगे। इस दौरान कर्मचारी ने अपने साथियों को आवाज लगाई। पीछे से सात लोग पहुंचे तो लुटेरे कमजोर पड़ गए। दोनों पक्षों में मारपीट हुए। चार बचकर भाग निकले, लेकिन एक लुटेरे को कर्मचारियों ने पकड़ लिया। इस घटना के बाद ट्रैक्टर एजेंसी के कर्मचारी पुलिस के पास जा रहे थे, तभी कार वापस लौटी और उन्हें रौंद दिया।

UMESH NIRMALKAR

Leave a Reply

Next Post

एक साल बाद भी नहीं मिली मजदूरी:वन विभाग ने मजदूरों से कोरे चेक पर साइन कराकर कहा-जल्द मिलेंगे; अमित जोगी बोले-पूरे प्रदेश में भ्रष्टाचार

Mon Dec 27 , 2021
पेंड्रा17 घंटे पहले छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेड्रा-मरवाही(GPM) जिले में मजदूरी करने के एक साल बाद भी मजदूरों को उनकी मजदूरी नहीं मिली है। जिसकी वजह से वे काफी परेशान हैं। इन्होंने बताया कि हमसे कोरे कागज में साइन कराकर कहा गया था कि पैसे जल्द मिल जाएगा। मामला मरवाही वन मंडल […]

Breaking News