प्रेमी के घर गई बहन की हत्या:सरपंच भाई ने पीटा, दीवार में मारा सिर; फिर हार्टअटैक से मौत बता कर जलाई चिता; 6 गिरफ्तार

0

छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में सरपंच ने अपनी बहन को पीट-पीटकर मार डाला है। महिला अपने प्रेमी के घर चली गई थी। गुस्साए सरपंच व परिवार के अन्य सदस्य प्रेमी के घर पहुंचे। सरपंच ने युवती की बेरहमी से पिटाई की, जिससे उसने दम दौड़ दिया। मामले की शिकायत के बाद पुलिस ने सरपंच सहित 6 लोगों की गिरफ्तारी की है। इसमें एक नाबालिग भी शामिल है। मामला इरागांव थाना क्षेत्र का है।

जिले के मड़कड़ा गांव की रहने वाली ललिता नाग (25) 16 अक्टूबर को परिजन को बिना बताए अपने प्रेमी संतोष कार्रोम के घर कानागांव चली गई थी। जब इसकी खबर उसके बड़े भाई व मड़कड़ा गांव के सरपंच नारायण नाग को लगी तो वे उसी दिन अपने परिवार के अन्य सदस्यों व गांव के कुछ ग्रामीणों के साथ कानागांव गए। उस वक्त संतोष घर में नहीं था। सरपंच समेत परिवार के सदस्य संतोष के घर के अंदर गए और अपनी बहन के साथ मारपीट करने लग गए।

नारायण ने अपनी बहन का सिर पकड़कर दीवार में टक्कर मारी, जिससे वह मौके पर ही बेहोश हो गई थी। इसके बाद उसे कार के माध्यम से कानागांव के अस्पताल ले जाया गया, लेकिन अस्पताल में डॉक्टर नहीं मिले, फिर उसे गांव के ही एक सिरहा के पास लेकर गए, जिसने बताया कि युवती की मौत हो गई है। घबराए परिजन लाश को लेकर मड़कड़ा गांव पहुंचे। इन्होंने गांव के अन्य ग्रामीणों को बताया कि हार्टअटैक से ललिता की मौत हो गई है। इसके बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया।

प्रेमी ने दर्ज करवाई रिपोर्ट
कोंडागांव जिले के SDOP भूपत सिंह ने बताया कि, ललिता के प्रेमी संतोष को जब 1 सप्ताह के बाद मौत की जानकारी मिली तो उसने फौरन पुलिस को सूचना दी। इसके बाद इरागांव थाना के जवानों ने सरपंच को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ की गई। सरपंच ने अपना जुर्म कबूला और इस मामले में जो लोग शामिल थे सभी के बारे में बताया। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर बुधवार को जेल भेज दिया है।

ये हैं आरोपी

  • नारायण नाग (33)
  • रूपसिंह नाग (40)
  • मंगतु (45)
  • रत्तुराम सलाम (52)
  • संतोष मरापी (21)
  • नाबालिग
%d bloggers like this: