संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर “संवर्धन”
शासकीय कन्या शिक्षा परिसर दुगली विकास खंड नगरी में सफलतापूर्वक संपन्न
“संवर्धन” शिविर में शिक्षकों के 233 आवेदनों का मौके पर हुआ निराकरण

0

नगरी.धमतरी / संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर ‘‘संवर्धन‘‘ 24 अक्टूबर 2021 को शासकीय कन्या शिक्षा परिसर दुगली में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ । शिविर का उदघाटन डा. श्रीमती लक्ष्मी ध्रुव विधायक सिहावा विधान सभा क्षेत्र एवं उपाध्यक्ष मध्य क्षेत्र विकास प्राधिकरण के द्वारा किया गया। उदघाटन समारोह को संबोधित करते हुये विधायक डा. श्रीमती लक्ष्मी ध्रुव ने “संवर्धन” शिविर के आयोजन को ऐतिहासिक बताते हुये शिक्षा विभाग के अधिकारियों की संवेदनशीलता एवं पहल की सराहना की । उन्होनें समाज के विकास एवं राष्ट्र की उन्नति के लिये शिक्षा को सर्वोपरि बताया तथा राष्ट्र निर्माता के रूप में माने जाने वाले शिक्षकों की व्यक्तिगत समस्याओं एवं मांगों के निराकरण के लिये संवर्धन शिविर के रूप में आयोजित किये गये संभाग स्तरीय कार्यक्रम की आवश्यकता को सार्थक निरूपित किया। इस अवसर पर संभागीय संयुक्त संचालक श्री जे.पी.रथ ने उपस्थित शिक्षक-शिक्षिकाओं को संबोधित करते हुये कहा है कि शिक्षा संभाग रायपुर अन्तर्गत आयोजित किये गये संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर ‘‘संवर्धन‘‘ के माध्यम से शिक्षकों की व्यक्तिगत समस्याओं पर आधारित आवेदनों का निरराकरण शिविर स्थल पर ही किये जाने से शिक्षक-शिक्षिकाओं के मनोबल को बढ़ावा मिलेगा तथा शिक्षकगण पुरे मनोयोग से बच्चों को पठन-पाठन कराने में सक्रियता से योगदान देंगें। शिविर में जिला शिक्षा अधिकारी डा.रजनी नेल्सन ने शिक्षकों के व्यक्तिगत समस्याओं के निराकरण के लिये आयोजित ‘‘संवर्धन‘‘ शिविर में प्राप्त सभी आवेदनों का तत्परतापूर्वक निराकरण किये जाने के निर्देश दिये। जिला शिक्षा अधिकारी डा.श्रीमती रजनी नेल्सन ने उच्चाधिकारियों के निर्देशानुसार धमतरी जिले में ‘‘संवर्धन‘‘ शिविर के माध्यम से शिक्षकों के व्यक्तिगत समस्याओं का निदान समय-सीमा में किये जाने हेतु आश्वस्त किया। इस अवसर पर विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी सतीश प्रकाश सिंह ने स्वागत अभि-भाषण प्रस्तुत करते हुए ‘‘संवर्धन‘‘ शिविर के आयोजन के उदे्देश्यों तथा महत्व को बताया। बी.ई.ओ.नगरी सतीश प्रकाश सिंह ने संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर ‘‘संवर्धन‘‘ में कुल प्राप्त 396 आवेदनों में से 233 आवेदनों का विकासखंड स्तर पर निराकृत किये जाने की जानकारी प्रस्तुत की तथा शेष आवेदनों को जिला स्तर,संभाग स्तर एवं राज्य स्तर पर कार्यवाही हेतु प्रेषित किये गये आवेदनों की जानकारी से अवगत कराया। बी.ई.ओ सतीश प्रकाश सिंह ने ‘‘संवर्धन‘‘ शिविर के आयोजन के अभिनव पहल के लिये संयुक्त संचालक श्री जे.पी.रथ की संकल्पना की व्यापक प्रशंसा करते हुये नगरी विकासखंड एवं जिले के लिये मील का पत्थर बताया । उद्घाटन समारोह में कन्या शिक्षा परिसर दुगली, उ.मा.वि.दुगली की छात्राओं ने आकर्षक छत्तीसगढ़ी नृत्य एवं गीत प्रस्तुत किया। शिविर के प्रारंभ में छत्तीसगढ़ के राजकीय गीत “अरपा पैरी के धार” का गान सभी उपस्थित जनों के द्वारा किया गया तत्पश्चात् मुख्य अतिथि विधायक डा.श्रीमती लक्ष्मी ध्रुव एवं अन्य अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी डा.रजनी नेल्सन ने शाल एवं श्रीफल भेंटकर विधायक डा.श्रीमती लक्ष्मी ध्रुव का अभिनंदन किया तथा विकासखंड शिक्षा अधिकारी सतीश प्रकाश सिंह ने संयुक्त संचालक श्री जे.पी.रथ, सहायक संचालक द्वय डी.एस.ध्रुव, सुनील तिवारी का शाल श्रीफल भेंट कर अभिनंदन किया।संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर ‘‘संवर्धन‘‘ में अनुविभागीय अधिकारी(राजस्व) नगरी चन्द्रकांत कौशिक ने अपनी सहभागिता देकर संवर्धन शिविर का निरीक्षण कर इस महत्वपूर्ण आयोजन की सराहना की तथा संवर्धन शिविर के माध्यम से शिक्षकों की व्यक्तिगत समस्याओं के निराकरण किये जाने की पहल को आवश्यक बताया।
‘‘संवर्धन‘‘ शिविर में संभागीय संयुक्त संचालक कार्यालय के सहायक संचालक द्वय डी.एस.ध्रुव,सहायक संचालक सुनील तिवारी संभागीय संयुक्त संचालक कार्यालय रायपुर, तुलसी मंडावी सरपंच, अनूप वट्टी, बंटी नाग विधायक प्रतिनिधि, मुदित श्रीवास्तव प्राचार्य कन्या शिक्षा परिसर दुगली,श्रीमती प्रभा ठाकुर प्राचार्य उ.मा.वि.दुगली,श्रीमती अर्चना नेताम प्राचार्य हाईस्कूल छूही, प्राचार्य अनिभा अग्रवाल उ.मा.वि. सांकरा, विकासखंड नगरी के समस्त प्राचार्य हाईस्कूल, हायर सेकेंडरी स्कूल, जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय धमतरी के वरिष्ठ लेखा परीक्षक आर.के , नरेन्द्र साहू ,संभागीय संयुक्त संचालक कार्यालय के प्रफुल्ल शर्मा, महेश्वरी ध्रुव ए.बी.ई.ओ.नगरी,बी.एम.साहू बी.आर.सी.नगरी,रूपेन्द्र साहू ,राकेश घोरपड़े,प्रदीप दुबे, अमन जाचक,कुलदीप वासनिक,आलोक अड़पवार,पुष्पेन्द्र सिन्हा, रजत शिंदे, विकासखंड कार्यालय के कर्मचारी बी.आर टंडन, वासुदेव मरकाम,लक्ष्मी साहू,प्रवीण कौशल, मनीषा ठाकुर,विकासखंड नगरी के समस्त संकुल शैक्षिक समन्वयक,विभिन्न स्कूलों के व्याख्याता,प्रधान पाठक माध्यमिक शाला,प्राथमिक शाला,शिक्षक-शिक्षिकाएं एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।
24 अक्टूबर को शासकीय कन्या शिक्षा परिसर दुगली में आयोजित किये जा रहे संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर ‘‘संवर्धन‘‘ में संभागीय संयुक्त संचालक श्री जे.पी.रथ, जिला शिक्षा अधिकारी धमतरी डा.रजनी नेल्सन, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी नगरी सतीश प्रकाश सिंह द्वारा कुल प्राप्त 396 आवेदनों में से 233 आवेदनों का शिविर स्थल में ही निराकरण कर संबंधित आवेदनकर्ता-शिक्षक-शिक्षिकाओं को पत्र सौंपकर अवगत कराया गया।
संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर “संवर्धन” को सफल बनाने में संभागीय शिक्षा कार्यालय रायपुर,जिला शिक्षा कार्यालय धमतरी,विकासखण्ड शिक्षा कार्यालय नगरी के सहयोगी अधिकारी-कर्मचारी,समस्त प्राचार्य शासकीय हाईस्कूल,हायरसेकेडंरी स्कूल,संकुल शैक्षिक समन्वयक,कर्मचारियों ने सक्रिय योगदान दिया। संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर “संवर्धन”में निर्धारित 15 बिन्दुओं पर शिक्षक-शिक्षिकाओं से व्यक्तिगत आवेदन लिया जाकर शिविर स्थल में ही 233 आवेदनों का निराकरण किया गया।
विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी सतीश प्रकाश सिंह ने बताया कि संभाग स्तरीय शिक्षक समस्या निवारण शिविर ‘‘संवर्धन‘‘ में सेवा पुस्तिका का अद्ययतनीकरण- समस्त प्रविष्टियाॅं, उच्च परीक्षा/प्रतियोगी परीक्षा में सम्मिलित होने विभागीय अनुमति, मकान,जमीन,वाहन क्रय करने की विभागीय अनुमति, अर्जित अवकाश, चिकित्सा अवकाश, संतानपालन अवकाश आदि की स्वीकृति एवं प्रविष्टियां, वेतन नियमितीकरण, वेतन-वृद्धि, एरियर्स राशि का भुगतान, क्रमोन्नत वेतनमान/समयमान वेतनमान निर्धारण, कोष लेखा एवं पेंशन की टीप का अनुपालन (सेवा पुस्तिका में), अधिक भुगतान की वसूली सुनिश्चितीकरण, जी.पी.एफ.(एडवांस/पार्ट फायनल) आवेदन पत्र का निराकरण, बिना अनुमति/सूचना के तथा दीर्धावधि तक अनुपस्थित कर्मचारियों का अवकाश निराकरण, एन.पी.एस. जमा राशि (एल.बी. के रूप में संविलियन के पूर्व) हेतु पत्राचार, पंचायत/नगरीय निकाय-वेतन निर्धारण एवं अन्य एरियर्स भुगतान की स्थिति व आवेदन, लंबित पेंशन प्रकरणों का निराकरण, कोरोनाकाल में मृतकों के स्वत्व-भुगतान, अर्जित अवकाश, चिकित्सा प्रतिपूर्ति, एनपीएस, अनुकम्पा नियुक्ति से संबंधित आवेदनों का निराकरण किया गया। “संवर्धन” शिविर में सम्मिलित होने वाले सभी सभी अधिकारीगण, शिक्षक-शिक्षिकायें,कर्मचारियों के द्वारा शिविर स्थल में कोविड-19 से बचाव एवं सुरक्षा हेतु निर्धारित प्रोटोकाॅल का पालन किया गया।

%d bloggers like this: