प्रधानमंत्री के फैसले का क्रेडिट लेते हुए राहुल गांधी ने कही यह बात

दिल्ली।कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंकाओं और वायरस के नए वैरियंट ओमीक्रोन के देश में बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को घोषणा की कि अगले साल तीन जनवरी से 15 से 18 साल की उम्र के बीच के टीनएजर्स के लिए वैक्सीनेशन कैंपेन शुरू किया जाएगा, इसके साथ ही उन्होंने ऐलान किया फ्रंट लाइन हेल्थ वर्कर्स को ‘बूस्टर डोज’ देने की शुरुआत 10 जनवरी से होगी। पीएम के इस ऐलान के बाद राहुल गांधी समेत तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं ने इसे सही कदम बताया।राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री के कदम को सही तो बताया लेकिन साथ ही अपने क्रेडिट लेना भी नहीं भूले। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि केंद्र सरकार ने बूस्टर डोज़ का मेरा सुझाव मान लिया है- ये एक सही क़दम है। देश के जन-जन तक वैक्सीन व बूस्टर की सुरक्षा पहुंचानी होगी। इसके साथ ही उन्होंने 22 दिसंबर का एक ट्वीट भी साझा किया, जहां वह बूस्टर डोज को लेकर सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहे थे ।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने फ्रंट लाइन हेल्थ वर्कर्स को कोविड-19 वैक्सीन की बूस्टर डोज देने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई घोषणा पर शनिवार को खुशी जाहिर की और कहा कि यह सभी लोगों को दी जानी चाहिए। केजरीवाल ने यह भी कहा कि यह जानकर प्रसन्नता हुई कि अब 15-18 वर्ष की आयु के बच्चों को भी कोविड-19 रोधी टीका दिया जाएगा। इस सप्ताह के शुरू में, केजरीवाल ने केंद्र से आग्रह किया था कि वे टीके की दोनों खुराक पहले से ही ले चुके व्यक्तियों को कोविड-19 रोधी टीके की बूस्टर खुराक देने की अनुमति दें।

Leave a Reply

Next Post

बैंक के प्यून ने की आत्महत्या:फांसी के फंदे पर लटकी मिली लाश; सुसाइड नोट में लिखा-मैनेजर मुझे परेशान करता था, हमेशा लगता था मर जाऊं

Mon Dec 27 , 2021
पेंड्रा/बिलासपुर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में बैंक के प्यून ने आत्महत्या कर ली है। परिजनों को रविवार सुबह घर के बाथरूम में फांसी के फंदे पर लटकी हुई उसकी लाश मिली है। मृतक ने 2 सुसाइड नोट भी छोड़ है। जिसमें उसने बैंक मैनेजर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया […]

You May Like

Breaking News