WHO ने क्रिसमस का जश्न टालने की दुनियाभर को दी नसीहत

इस वक्त पूरी दुनिया क्रिसमस (Christmas) और न्यू ईयर (New Year) की तैयारी में मग्न है लेकिन ओमिक्रोन (Omicron) ने रंग में भंग डाल दिया है. पिछला क्रिसमस कोरोना ने फीका कर दिया था, इस बार भी क्रिसमस पर ओमिक्रोन का ग्रहण लग गया है.  विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना के वेरिएंट ओमिक्रोन के तेजी से बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर लोगों से अपनी छुट्टियों की कुछ योजनाओं को रद्द करने की अपील की है ताकि सार्वजनिक स्वास्थ्य की रक्षा की जा सके.WHO के प्रमुख डॉक्टर टेड्रोस एडनॉम (Tedros Adhanom) ने कहा, “कार्यक्रम रद्द करना जिंदगी को खतरे में डालने से बेहतर है. अब कठिन फैसले लेने होंगे. जिसका मतलब है कि कुछ मामलों में समारोह के आयोजनों को रद्द किया जाए या तारीख आगे बढ़ाई जाए. अब हमारे पास पुख़्ता सबूत हैं कि ओमिक्रोन, डेल्टा के मुकाबले काफी तेजी से फैल रहा

दुनियाभर में लग रहे सख्त प्रतिबंध
डॉक्टर टेड्रोस का ये बयान ऐसे समय आया है जब फ्रांस और जर्मनी सहित कई देशों ने कोविड के प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया है और त्योहार के मौसम में यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है. वहीं, नीदरलैंड्स ने क्रिसमस के दौरान देश में सख़्त लॉकडाउन का एलान किया है.  वहीं ब्रिटेन लॉकडाउन पर विचार कर रहा है.

ओमिक्रोन के सबसे ज्यादा केस यूके में हैं 37,101. दूसरे नंबर डेनमार्क है, जहां 15,452 केस हैं. तीसने नंबर पर नॉर्वे है, जहां 3394 
फिर साउथ अफ्रीका में 1300 और अमेरिका में 1070 केस हैं. पूरी दुनिया में इस वक्त ओमिक्रोन के 63,790 केस हैं.

आज अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भी ओमिक्रोन और कोरोना को लेकर राष्ट्र के नाम संबोधन कर सकते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति क्या ऐलान करते हैं इसपर भी सबकी नजरें टिकी रहेंगी.

Leave a Reply

Next Post

3 आरोपी गिरफ्तार , दलित कर्मचारी को मैनहोल साफ करने के लिए किया मजबूर,

Tue Dec 21 , 2021
बेंगलुरू। बेंगलुरू के एक प्रतिष्ठित अस्पताल में काम करने वाले 3 कर्मचारियों पर मामला दर्ज किया गया है। दरअसल, उन्होंने एक दलित कर्मचारी को सीवर खोलने के लिए मैनहोल साफ करने के लिए मजबूर किया। इसी वजह से उनपर मामला दर्ज किया गया है। यह जानकारी पुलिस ने मंगलवार को दी। […]

Breaking News